23000 विद्यार्थियों ने छोड़ा सरकारी स्कूल, रिपोर्ट में खुलासा

हिमाचल में सरकारी स्कूलों को मजबूत करने में जुटी प्रदेश सरकार को यू डाइस रिपोर्ट ने बड़ा झटका दिया है। साल 2019-20 में प्रदेश भर में 23,000 विद्यार्थियों ने सरकारी स्कूल छोड़ दिया है। छठी से दसवीं कक्षा तक 14,000, पहली से पांचवीं तक 8,000 ड्राप आउट हुआ है।

हालांकि, 11वीं और 12वीं कक्षा में सिर्फ 102 विद्यार्थी सरकारी स्कूल छोड़कर गए हैं। साल 2018-19 की रिपोर्ट में पहली से जमा दो कक्षा तक पढ़ने वाले विद्यार्थियों की संख्या 8,24,073 थी। अब यह संख्या घटकर 8,01,043 रह गई है। साल 2017-18 के मुकाबले 2018-19 में सरकारी स्कूलों से तीस हजार से अधिक विद्यार्थी कम हो गए थे।
साल 2016-17 में पहली से जमा दो कक्षा तक पढ़ने वाले विद्यार्थियों की संख्या 8.54 लाख थी, जो 2017-18 में घटकर 8,24613 लाख पहुंच गई थी। सरकारी स्कूलों में साल 2013 में विद्यार्थी दस लाख से अधिक थे। साल 2014 में यह आंकड़ा 9,59,147 पहुंच गया।

साल 2015 में यह संख्या 9,31,187 दर्ज हुई, जबकि साल 2015-16 में संख्या 8,90,137 पहुंच गई थी। उल्लेखनीय है कि साल 2018-19 में अभिभावकों का सरकारी स्कूलों की पढ़ाई के प्रति भरोसा बढ़ा था। 2018-19 में 2017-18 के मुकाबले ड्राप आउट का आंकड़ा 30 हजार से घटकर महज 540 पर पहुंच गया था।

किस कक्षा में कितने विद्यार्थी घटे
कक्षा                        साल 2018-19        साल 2019-20        अंतर

कक्षासाल 2018-19साल 2019-20   अंतर
पहली से पांचवीं 2,98,210  2,90,158   – 8,052
छठी से दसवीं3,72,9103,58,036– 14,874
जमा एक, जमा दो  1,52,9531,52,849  – 104

Official Site Click Here 

follow me on social media
Share this

Author: admin