कैबिनेट बैठक में करीब 3233 पदों को भरने का फैसला लिया | SMC शिक्षकों का मानदेय बढ़ा

कैबिनेट बैठक में करीब 3233 पदों को भरने का फैसला लिया 

कैबिनेट ने जल शक्ति विभाग (Jal Shakti Department) में 2,322 पद विभिन्न श्रेणियों के भरने को हरी झंडी दी है। यह पद जल शक्ति विभाग की पैरा वर्कर्स पॉलिसी के तहत भरने को स्वीकृति दी गई है। इसके अलावा उद्योग विभाग (industry department) में चार पद सीधी भर्ती से माइनिंग गार्ड के भरने को भी मंजूरी मिली है। कैबिनेट ने हिमाचल इलेक्शन विभाग में जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (आईटी) के सात पद भरने को स्वीकृति प्रदान की है। चतुर्थ श्रेणी कर्मी के दो पद राजस्व ट्रेनिंग संस्थान जोगिंद्रनगर मंडी में भरने को मंजूरी मिली है। यह पद दैनिक वेतन भोगी आधार पर भरे जाएंगे। डीसी ऑफिस चंबा में चालक के दो पद दैनिक वेतन के आधार पर भरने को भी मंजूरी मिली है।


कोरोना काल में हिमाचल प्रदेश में सरकारी नौकरियों का पिटारा खुल गया है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित की गई कैबिनेट बैठक में करीब 3233 पदों को भरने का फैसला लिया गया है। जल शक्ति विभाग में ही पैरा वर्करों के 2322 पद भरे जाएंगे। करीब 500 पेयजल योजनाओं और 50 सिंचाई योजनाएं की देखरेख और इनको सुचारु चलाने में कर्मचारियों की कमी के कारण दिक्कतें आ रही थीं। इसे देखते हुए सरकार ने पैरा वर्करों के पद भरने की कवायद शुरू कर दी है। कैबिनेट ने आईजीएमसी शिमला के ट्रॉमा/टर्शियरी केयर कैंसर और सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक चमियाना में विभिन्न श्रेणियों के 401 पदों को सृजित करने और भरने की मंजूरी दी।

इसके अलावा आउटसोर्स पर विभिन्न श्रेणियों के 328 पदों को भरने का फैसला लिया। बैठक में उद्योग विभाग के भूवैज्ञानिक विंग में माइनिंग गार्ड के चार पदों को सीधी भर्ती के माध्यम से अनुबंध के आधार पर भरने का भी निर्णय लिया गया। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग में निरीक्षक ग्रेड-1 के तीन पदों को अनुबंध के आधार पर भरने की स्वीकृति प्रदान की। निर्वाचन विभाग में कनिष्ठ कार्यालय सहायक (आईटी) के सात पदों को सीधी भर्ती के माध्यम से अनुबंध के आधार पर भरने का भी निर्णय लिया गया। उपायुक्त कार्यालय चंबा में दैनिक वेतन भोगी आधार पर चालकों के दो पदों को भरने का भी निर्णय लिया।  हिमाचल प्रदेश राजस्व प्रशिक्षण संस्थान जोगिंदरनगर में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के दो पदों को दैनिक वेतन भोगी आधार पर भरने का भी निर्णय लिया।

बैठक में मंडी जिले के बल्ह विधानसभा क्षेत्र के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मेरा मस्ती में विज्ञान विषय की कक्षाएं शुरू करने के साथ ही विभिन्न श्रेणियों के तीन पदों के सृजन का निर्णय लिया गया। चंबा जिले के डलहौजी विधानसभा क्षेत्र में सरकारी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बग्गी और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अथर में विज्ञान की कक्षाएं शुरू करने की मंजूरी दी। वहीं, बिलासपुर जिले की घुमारवीं तहसील में सरस्वती संस्कृत डिग्री महाविद्यालय डांगर को शासकीय नियंत्रण में लेने का निर्णय लिया। मंडी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र थुनाग को स्तरोन्नत कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने के साथ विभिन्न श्रेणियों के तीन पद सृजित व भरने की मंजूरी दी। बैठक में सिस्टर निवेदिता राजकीय नर्सिंग कॉलेज शिमला में रीडर कम एसोसिएट प्रोफेसर का एक पद सृजित कर भरने का भी निर्णय लिया गया।  कांगड़ा जिले के सिविल अस्पताल नूरपुर में चिकित्सा अधीक्षक का एक पद सृजित कर भरने का भी निर्णय लिया गया।

कैबिनेट ने चार मेकशिफ्ट अस्पतालों में आउटसोर्स  माध्यम से स्टाफ नर्स, स्टार्फ सिस्टर समेत 150 कर्मचारियों की तैनाती करने का निर्णय लिया गया। कांगड़ा जिले में पशु चिकित्सा औषधालय सीहुंड को पशु चिकित्सा अस्पताल में अपग्रेड करने के साथ ही तीन पदों के सृजन और भरने का भी निर्णय लिया।  बैठक में ऊना जिले के गगरेट में नव निर्मित उपमंडल निर्वाचन कार्यालय में कनिष्ठ कार्यालय सहायक (आईटी) और चतुर्थ श्रेणी के एक-एक पद सृजित करने का भी निर्णय लिया गया। कनिष्ठ कार्यालय सहायक (आईटी) का पद अनुबंध के आधार पर भरा जाएगा जबकि चतुर्थ श्रेणी का पद दैनिक वेतन के आधार पर भरा जाएगा।

वहीं, मुख्यमंत्री की बजट घोषणा को मंजूरी देते हुए मंत्रिमंडल ने प्रदेश के सरकारी स्कूलों में सेवाएं दे रहे करीब 2555 एसएमसी शिक्षकों का मानदेय पांच सौ रुपये प्रतिमाह बढ़ा दिया है। इसके अलावा स्कूलों में मध्याह्न भोजन बनाने वाले 21,234 कर्मियों के मानदेय में भी तीन सौ रुपये प्रतिमाह की बढ़ोतरी की है। एसएमसी शिक्षकों को उनकी श्रेणी के अनुसार अलग-अलग मानदेय मिलता है। एक अप्रैल से मानदेय में वृद्धि होगी।

 Official Site for Credit : source link 

Author: admin