जेबीटी ही पढ़ाएंगे पहली से पांचवीं कक्षा, बीएड पात्र नहीं

पांचवीं कक्षाओं के विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए JBT/डीएलएड ही पात्र होंगे।सरकार ने नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजूकेशन को पत्र जारी कर यह स्पष्ट कर दिया

डेढ़ वर्ष से शिक्षकों की पात्रता को लेकर जारी विवाद पर स्थिति स्पष्ट करते हुए शिक्षा सचिव ने जारी पत्र में कहा है कि B.Ed. डिग्री धारक पहली से पांचवीं कक्षाओं को पढ़ाने के लिए पात्र नहीं होंगे।   छठी से 12वीं कक्षाओं को पढ़ाने के लिए ही पात्र माना जाएगा।

स्कूलों में 1800 JBT के पद भरने का रास्ता साफ हो गया। नेशनल कांउसिल फॉर टीचर एजूकेशन ने बीते साल राज्यों को जारी पत्र में JBT/डीएलएड के साथ-साथ B.Ed. डिग्री धारकों का भी प्राइमरी कक्षाओं को पढ़ाने के लिए पात्र होने के आदेश जारी किए थे। सरकार ने इन आदेशों को उस समय लागू न करते हुए कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर को जेबीटी की सीधी भर्ती पुराने आरएंडपी नियमों के तहत ही करने को कहा था। भर्ती प्रक्रिया शुरू होते ही कुछ B.Ed. डिग्री धारक हाईकोर्ट चले गए थे। इस मामले को लेकर हाईकोर्ट में 11 नवंबर को सुनवाई भी है।

RECENT POSTS