पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में जीता ब्रॉन्ज, ओलंपिक के इतिहास

पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में जीता ब्रॉन्ज, ओलंपिक के इतिहास

भारत की स्टार महिला शटलर पीवी सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल मैच में चीन की ही बिंगजियाओ को हराकर भारत के लिए टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है। मीराबाई चानू के सिल्वर के बाद भारत का ये दूसरा मेडल है । इसी के साथ टोक्यो ओलंपिक में भारत के तीन मेडल पक्के हो गए हैं।

भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचते हुए भारत के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है। शनिवार को सेमीफाइनल में विश्व नंबर एक ताइ जू यिंग से हारने के बाद रविवार को सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल के मुकाबले में चीन की ही बिंगजियाओ को 21-13,21-15 से सीधे सेटों में मात दी। इसी के साथ टोक्यो ओलंपिक में भारत का ये दूसरा विजयी मेडल है और तीसरा पदक है जो पक्का हुआ है।

ब्रॉन्ज मेडल के लिए हुए इस मुकाबले में चीनी खिलाड़ी का भारतीय शटलर के ऊपर पलड़ा भारी था। लेकिन सेमीफाइनल में मिली हार से उबरकर सिंधु ने शानदार खेल दिखाते हुए लगातार अपना दूसरा ओलंपिक मेडल जीता है। ऐसा करने वाली वे पहली भारतीय महिला बन गईं हैं। इससे पहले एकल स्पर्धा में भारत के लिए सिर्फ सुशील कुमार ने 2008 में कांस्य और 2012 में रजत पदक जीतकर लगातार दो मेडल अपने नाम किए थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x
WhatsApp chat