सरकार का कड़ा फैसला, बंद किये जाएंगे कम छात्र संख्या वाले स्कूल, अभिभावक तथा ग्रामीणों से लिए जाएंगे सुझाव

हिमाचल में प्रदेश सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। इसके अनुसार अब दस से कम छात्रों वाले हायर व सेकेंडरी स्कूल बंद किए जा सकते हैं। वहीं आपको बता दें कि हिमाचल शिक्षा विभाग (Education Department) ने इस फैसले पर अमल करने को लेकर पहले चरण की कार्रवाई भी शुरू कर दी है। इसी के साथ शिक्षा विभाग ने सभी जिलों से दस से कम छात्र संख्या वाले हायर व सेकेंडरी स्कूलों का डाटा भी मांगा है। इस संबंध में हिमाचल शिक्षा विभाग (Education Department) के संयुक्त निदेशक की ओर से जिला उपनिदेशकों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इसके तहत सभी जिलों को 10 से कम छात्र संख्या वाले हायर तथा वरिष्ठ माध्यमिक स्कूलों का ब्यौरा शिक्षा विभाग (Education Department) को देना होगा।

इसके साथ ही शिक्षा विभाग ने उन स्कूलों में पढ़ रहे विद्यार्थियों के परिजनों तथा स्कूल की प्रबंधन समिति का फोन नंबर भी मांगा है, ताकि उनसे इस सम्बन्ध में उन सभी से बात की जा सके। वहीं आपको बता दें कि प्रदेश में ऐसा पहली बार हुआ है जब उच्च शिक्षा निदेशालय ने दस से कम छात्र संख्या वाले स्कूलों की रिपोर्ट तलब की है। वहीं शिक्षा विभाग (Education Department) के अधिकारी कम संख्या वाले स्कूलों में एडमिशन न बढ़ने का कारण अभिभावकों व एसएमसी के सदस्यों से पूछेंगे। वहीं प्रत्येक के जिले के प्रत्येक ग्रामीण इलाके में शिक्षा निदेशालय से इस संबंध में कॉल जाएगी। इस दौरान यदि ग्रामीणों अथवा अभिभावकों से इस बाबत पता चलता है कि सालों से इन स्कूलों में एनरोलमेंट नहीं बढ़ रहे है, तो इन‌ स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया जाएगा।

वहीं हिमाचल शिक्षा विभाग (Education Department) एक हफ्ते बाद कम छात्र संख्या वाले स्कूलों का रिव्यू करेगा। जिलों द्वारा दी गई रिपोर्ट के अनुसार ही निदेशालय से शिक्षा अधिकारी अभिभावकों को कॉल कर कम छात्र संख्या वाले स्कूलों को बंद करे या नहीं, इस संबंध में सुझाव लेंगे।

Official Site Click Here 

follow me on social media
Share this

Author: admin