ऊना: कर्नाटक से पहली ट्रेन में लौटे यात्रियों का तालियों से हुआ स्वागत

ऊना: कर्नाटक से पहली ट्रेन में लौटे यात्रियों का तालियों से हुआ स्वागत

लॉकडाउन के बीच कर्नाटक में फंसे हिमाचलियों को लेकर पहली ट्रेन बुधवार दोपहर एक बजे ऊना पहुंची। प्लेटफार्म पर तैनात पुलिस जवानों और अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों ने जोरदार तालियों के साथ सभी लोगों का घर वापसी पर स्वागत किया। उपायुक्त संदीप कुमार ने सबसे आगे खड़े होकर अभिनंदन किया। यात्रियों ने भी हाथ हिलाकर अभिवादन स्वीकार किया।

डीसी ने बताया कि बुधवार को 643 यात्री ऊना पहुंचे। इनमें चंबा के 131, मंडी 58, बिलासपुर 22, कांगड़ा 157, शिमला 73, किन्नौर 5, सोलन 59, कुल्लू 20, सिरमौर 14, हमीरपुर 84 और ऊना के 19 यात्री शामिल हैं। रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को जिलावार उतारा गया। इन्हें एचआरटीसी बसों में उनके जिलों के लिए रवाना किया गया। सबसे पहले चंबा जिले के यात्री उतारे गए।
सामाजिक दूरी के नियम का पालन करते हुए इन्हें हेल्पडेस्क की ओर लाया गया। यात्रियों के हाथ सैनिटाइज किए गए, थर्मल स्कैनर से स्क्रीनिंग की गई और उन्हें खाने की सामग्री तथा पानी की बोतलें देकर रवाना किया गया। फिर कांगड़ा, शिमला, किन्नौर, सोलन, सिरमौर, कुल्लू, मंडी, बिलासपुर, हमीरपुर और अंत में ऊना जिले के यात्री उतारे गए।
इस दौरान एसपी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन, एडीसी अरिंदम चौधरी, एएसपी विनोद धीमान तथा अन्य अधिकारी व्यवस्था में तैनात कर्मचारियों व अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते रहे। प्लेटफार्म पर यात्रियों की सुविधा को व्हील चेयर्स का इंतजाम किया गया था। सभी लोगों को जिलों के बॉर्डर पर क्वारंटीन किया गया।

 

रेलवे स्टेशन क्षेत्र में बनाए गए 8 सेक्टर
रेलवे स्टेशन क्षेत्र में व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त रखने को 8 सेक्टर बनाए गए थे। हर सेक्टर में एक अधिकारी तैनात था। दस एनसीसी वालंटियर्स के साथ लगभग 150 कर्मचारी तैनात किए थे। भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी।

महिला की तबीयत बिगड़ी तो डीसी लाए व्हील चेयर
कर्नाटक से ट्रेन में आईं दो गर्भवती महिलाएं भी हिमाचल लौटीं। सिरमौर के शिलाई क्षेत्र की महिला को रेलवे स्टेशन पर कुछ दिक्कत होने लगी तो डीसी संदीप कुमार व्हील चेयर लेकर आए। स्क्रीनिंग के बाद उसे चिकित्सा कक्ष में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसकी जांच की। इसके बाद एंबुलेंस से महिला तथा परिवार के दो अन्य सदस्यों को अस्पताल ले जाया गया।

इसके बाद रेलवे स्टेशन ऊना में एक और महिला इसी तरह अस्वस्थ दिखी, गर्भवती महिला को स्वास्थ्य विभाग ने उपचार दिया। महिला और उसके परिवार के तीन सदस्यों को भी क्षेत्रीय अस्पताल भेज दिया गया। सीएमओ ऊना डॉ. रमण कुमार शर्मा ने बताया कि जिला प्रशासन इन महिलाओं को आगे रवाना करने पर फैसला करेगा।


Amid the lockdown, the first train carrying Himachalis stranded in Karnataka reached Una on Wednesday afternoon. Police personnel and other officers and staff posted on the platform welcomed all the people back home with loud applause. Deputy Commissioner Sandeep Kumar stood at the forefront and greeted. Passengers also shook hands and accepted the greeting.

DC said that 643 passengers reached Una on Wednesday. These include 131 passengers from Chamba, Mandi 58, Bilaspur 22, Kangra 157, Shimla 73, Kinnaur 5, Solan 59, Kullu 20, Sirmaur 14, Hamirpur 84 and 19 passengers of Una. Passengers were alighted district-wise at the railway station. These were dispatched to their districts in HRTC buses. The first passengers of Chamba district were off.
Following the law of social distance, they were brought to the helpdesk. The passengers’ hands were sanitized, screened with thermal scanners and sent off with food supplies and water bottles. Passengers from Kangra, Shimla, Kinnaur, Solan, Sirmaur, Kullu, Mandi, Bilaspur, Hamirpur and finally Una district were off.
During this, SP Karthikeyan Gokulachandran, ADC Arindam Chaudhary, ASP Vinod Dhiman and other officers kept giving directions to the employees and officers deployed in the system. Wheelchairs were arranged on the platform to facilitate the passengers. All people were quarantined at the border of the districts.

8 sectors built in railway station area
In the railway station area, 8 sectors were made to maintain order. An officer was posted in each sector. Approximately 150 personnel were deployed with ten NCC volunteers. A large number of police forces were deployed.

DC brought wheel chair if woman’s health deteriorated
Two pregnant women who came by train from Karnataka also returned to Himachal. DC Sandeep Kumar brought the wheel chair to the lady of Shillai area of ​​Sirmaur when she started having some problems at the railway station. After the screening she was taken to the medical room, where doctors examined her. The woman and two other family members were taken to the hospital by ambulance.

After this, another woman looked unwell in the railway station Una, the pregnant woman was given treatment by the Health Department. The woman and her three family members were also sent to the regional hospital. CMO Una Dr. Raman Kumar Sharma said that the district administration will decide on forwarding these women.



Coronavirus: हिमाचल में एक और पॉजिटिव, 67 पहुंचा आंकड़ा

HP Cabinet Decision Today एपीएल परिवारों को प्रदान की जाने वाली दालों, खाद्य तेल और चीनी पर सब्सिडी

Breaking News : हिमाचल आज के फैसले |10 बड़ी खबरें ! 14 मई 2020 की सभी खबरें HP BREAKING NEWS

follow me on social media
Share this

Author: admin