आपको कब लगेगी कोरोना की वैक्सीन? जान लें जवाब

आपको कब लगेगी कोरोना की वैक्सीन? जान लें जवाब

आपको कब लगेगी कोरोना की वैक्सीन? जान लें जवाब कोरोना वैक्सीनेशन ड्राइव देश में लॉन्च किया गया है। पहले चरण में, 3 करोड़ स्वास्थ्य कर्मचारियों और फ्रंट लाइन श्रमिकों को टीका लगाया जा रहा है। इस बीच, हर कोई जानना चाहता है कि टीकाकरण की सूची में उसका नंबर कब आएगा। अगर आपके मन में भी यही सवाल है, तो हम आपके लिए इसका जवाब लेकर आए हैं

तीन चरणों में होगा वैक्सीनेशन

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सरकार तीन चरणों में टीका लगवाएगी। पहले चरण में सभी फ्रंटलाइन हेल्थकेयर पेशेवरों को टीका लगाया जाएगा। जबकि दूसरे चरण में, आपातकालीन सेवाओं से जुड़े लोगों को वैक्सीन की खुराक दी जाएगी। इसके बाद, तीसरे चरण में, वे लोग जो गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं, उन्हें टीका लगाया जाएगा।

आपको कब लगेगी कोरोना की वैक्सीन? जान लें जवाब

इस महीने से शुरू होगा रजिस्ट्रेशन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, मार्च के अंत में जनता के लिए Co- WIN App ऐप लॉन्च किया जाएगा। इस एप के जरिए लोग टीकाकरण के लिए पंजीकरण करा सकेंगे। ऐसे में जाहिर है कि अप्रैल के बाद ही आपका नंबर टीकाकरण के लिए आएगा। वर्तमान में, कोविन ऐप पर स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और फ्रंट लाइन कार्यकर्ताओं के डेटा अपलोड करने का काम चल रहा है। इसलिए, अब व्यक्तिगत रूप से पंजीकरण करने की आवश्यकता नहीं है।

कब आएगा आपका नंबर?

Co- WIN App ऐप के लॉन्च के बाद, आम लोगों को व्यक्तिगत रूप से अपना पंजीकरण ऑनलाइन करना होगा। इसके बाद, टीकाकरण मॉड्यूल उन लोगों की जानकारी को सत्यापित करेगा, और फिर इसके बारे में स्थिति को अपडेट करेगा। टीकाकरण के लाभार्थियों को संदेश भेजे जाएंगे। इसके साथ ही क्यूआर कोड भी जनरेट होगा और लोगों को वैक्सीन लेने के लिए ई-सर्टिफिकेट मिलेगा।

इनको नहीं दी जाएगी वैक्सीन

दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जिनको भी वैक्सीन दी जा रही है उनमें 12 साल से कम के बच्चों को शामिल नहीं किया गया है. इसके अलावा गर्भवती महिलाओं और बीमार लोगों को वैक्सीन नहीं दी जाएगी.

कोरोना से ठीक हुए लोग भी लिस्ट में

जो लोग कोरोना महामारी की चपेट में आ चुके हैं और अब ठीक हो चुके हैं वह भी वैक्सीनेशन करवा सकते हैं.

अगर पहले से बीमार हैं तो?

50 साल से कम और अधिक उम्र के जो लोग किसी न किसी बीमारी से पीड़ित हैं उन्हें वैक्सीन दी जाएगी या नहीं? इसे लेकर दिल्ली AIIMS के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया की लीडरशिप में एक कमेटी बनाई गई थी जिसने अपनी रिपोर्ट नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पॉल को सौंप दी है. इस रिपोर्ट में यह बताया गया है कि किन बीमारियों से ग्रस्त लोग टीकाकरण करा सकते हैं और किन बीमारियों से ग्रस्त लोग नहीं करा सकते हैं. यह रिपोर्ट भी जल्द ही सार्वजनिक की जाएगी जिससे वैक्सीनेशन कराने में आसानी हो सके.

Author: admin